Showing posts from June, 2020

हुड़किया बौल - कष्टदायक कृषि कार्यों को सुगम बनाने के लिए अत्यंत सुन्दर माध्यम।

धान की रोपाई करती पहाड़ की महिलाएं।  |  चित्र - पोथिंग गांव (बागेश्वर पहाड़ के जनजीवन में संस्कृति का खास स्थान रहा है। मेलों और त्योह...

Uttarakhand General Knowledge (Questions and Answers) | उत्तराखण्ड सामान्य ज्ञान (प्रश्न एवं उत्तर)

Uttarakhand General Knowledge विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षा के लिए उत्तराखण्ड का यह सामान्य ज्ञान आप सभी के लिए उपयोगी है। आप इन्हें अवश...

उत्तराखण्ड राज्य आंदोलन के दौरान शहीद आंदोलनकारियों की सूची।

List of martyr agitators during Uttarakhand state movement उत्तराखण्ड राज्य ऐसे ही नहीं बन गया, इसमें दो सदी का संघर्ष है, मां बहनों का...

हीरा सिंह राणा का जाना उत्तराखण्ड के लोकसंगीत और संस्कृति के लिए अपूरणीय क्षति।

अपने गीतों में पहाड़ को उकेरने वाले, लोक की सशक्त आवाज, कई कालजयी गीतों के रचनाकार, उत्तराखंड के प्रसिद्ध लोकगायक श्रद्धेय हीरा सिंह रा...

Mool Narayan (Shikhar) Temple | श्री 1008 शिखर मूलनारायण मंदिर बागेश्वर।

  श्री 1008 मूलनारायण मंदिर शिखर (कपकोट) बागेश्वर।  (Photo Credit : Mr. Jeevan Dev) उत्तराखण्ड के बागेश्वर जनपद स्थित कपकोट तहसील...

एक कर्मवीर, त्यागी, दूरदर्शी पर्यावरणविद और जननेता थे बालम सिंह जनौटी।

फाइल फोटो: श्री बालम सिंह जनौटी    उत्तराखण्ड के बागेश्वर जनपद स्थित जनौटी पालड़ी गाँव में जन्मे बालम सिंह जनौटी एक कर्मवीर, त्यागी...

पिथौरागढ़-टुंडा चौड़ा गांव के युवाओं ने उठाया खुद सड़क बनाने का बीड़ा।

श्रमदान कर सड़क बनाते पिथौरागढ़ स्थित टुंडा चौड़ा गांव का युवावर्ग। (Photo : Gopu Bisht) उत्तराखण्ड के हजारों गांव आज भी सड़क मार्ग से नही...

Real Environmental Guardians | असली पर्यावरण प्रहरी ग्रामवासी हैं।

इस कोरोना काल में इतना तो सभी समझ ही गये होंगे कि प्रकृति ने हमें क्या दिया है और हमने उसका कैसे नाश किया है। आज नदी, नाले शुद्ध हैं, प्रद...

Kumaon Mastiff | कुमाऊंनी मैस्टिफ-जिसकी ताकत और वफ़ादारी के लोग वर्षों से कायल हैं।

कुमाऊंनी मैस्टिफ, भेड़-बकरियां और अनवाल। Kumaon Mastiff: पहाड़ों के तकरीबन हर घर में एक पहरेदार होता है, जो मालिक की भेड़, बकरी, गाय आदि ...

Load More
No results found