Showing posts with the label temple

Kot Bhramari Temple Garud Bageshwar | माता कोट भ्रामरी, देवी नन्दा के रूप में पूजित।

उत्तराखण्ड स्थित बागेश्वर जनपद के गरुड़ विकास खंड में कत्यूरी राजाओं की कुलदेवी…

उत्तराखण्ड के लोक देवता : गोलू और उनकी लोककथा।

उत्तराखंड की पावन धरा को ऋग्वेद में देवभूमि कहा गया है। यह धरा ऐसी है जहाँ दे…

गर्जिया देवी- गिरिराज हिमालय की पुत्री होने के कारण ही इन्हें इस नाम से पुकारा जाता है।

गर्जिया देवी मन्दिर या 'गिरिजा देवी मन्दिर' उत्तराखण्ड के  रामनगर …

Famous Nag Temple in Kumaon-Dhaulinag | कुमाऊँ का प्रसिद्ध नाग मन्दिर - धौलीनाग।

विनोद पन्त - खन्तोली (हरिद्वार) ऊँ नमोस्तु सर्पेभ्यो ये के च पृथ्वीमनु। ये अन्त…

बदियाकोट माँ नंदा भगवती मंदिर - समूचे चौदह पट्टी दानपुर का सामूहिक पीठ।

हिमालयी वास्तुकला में तैयार होता आदिबद्री माँ नंदा भगवती धाम बदियाकोट (बागेश्वर…

Shri 1008 Shikhar Mool Narayan Temple | श्री 1008 शिखर मूलनारायण मंदिर बागेश्वर।

श्री 1008 मूलनारायण मंदिर शिखर (कपकोट) बागेश्वर।  (Photo Credit : Mr. Jee…

उत्तराखण्ड में भी है माता वैष्णो मंदिर | Dunagiri Temple Dwarahat, Uttarakhand

उत्तराखण्ड यानि देवभूमि के द्वाराहाट में स्थित माँ दूनागिरी का भव्य मन्दिर अपार…

Dhouli Nag धौलीनाग देवता- हर समस्या के समाधान के लिए इन्हें पुकारा जाता है।

सोते समय माँ को कहते सुना जाता है - ईजा पड़ जा धौलीनाग ज्यू नाम ल्हिबेर। अगर …

Chirpat Kot Temple - चिरपतकोट धाम | धार्मिक और साहसिक पर्यटन की अपार सम्भावनायें।

Chirpatkot- Shri Guru Gunsai Dev, Bhagwati Mata Temple उत्तराखण्ड-बागेश…

उत्तराखण्ड के इस मंदिर में है अनूठी परम्परा | Uttarakhand Temples

भगवती मंदिर पोथिंग (बागेश्वर) उत्तराखण्ड  उ त्तराखण्ड स्थित बागेश्वर जि…

Kashil Dev | कपकोट और काशिल देव | बाली कुसुम की प्रचलित लोक कथा।

उत्तराखण्ड के बागेश्वर जनपद स्थित कपकोट तहसील मुख्यालय से करीब एक किमी की दूरी …

बागेश्वर-दानपुर के प्रमुख तीन शक्तिपीठों में से एक पोथिंग शक्तिपीठ | Devi Bhagwati Shakti Peetha Pothing

Bhagwati Mandir Pothing (Bageshwar) Uttarakhand उ त्तराखण्ड की पावन भूमि में …

Load More That is All